Blog Manager

Universal Article/Blog/News module

Current Affairs 31.12.2018

In: India
Like Up: (0)
Like Down: (0)
Created: 31 Dec 2018

31 दिसंबर की महत्त्वपूर्ण घटनाएँ

1492 - इटली के सिसली क्षेत्र से 100,000 यहूदियों को निकाला गया।

1600 - ब्रिटिश ईस्ट इंडिया कंपनी की स्थापनी हुई।

1781 - अमेरिका में पहला बैंक ‘बैंक ऑफ नॉर्थ अमेरिका  में खुला।

1802 - पेशवा बाजीराव द्वितीय को ब्रिटिश संरक्षण प्राप्त हुआ। मराठा शासक पेशवा बाजीराव द्वितीय अंग्रेजों के संरक्षण में आये।

1861 - चेरापूँजी (असम में 22990 मिमि बारिश हुई जो विश्व में किसी भी स्थल पर होने वाली सर्वाधिक वर्षा है। 1929 - महात्मा गाँधी के नेतृत्व में काँग्रेस के कार्यकर्ताओं ने लाहौर में पूर्ण स्वराज्य के लिए आंदोलन शुरू किया। 1944 - अमेरिकी राज्य उताह के ओगडन में रेल दुर्घटना में 48 लोगों की मौत। द्वितीय विश्व युद्ध में हंगरी ने जर्मनी के ख़िलाफ़ युद्ध की घोषणा की।

1949 - विश्व के 18 देशों ने इंडोनेशिया को मान्यता दी।

1962 - हालैंड ने दक्षिण पश्चिम प्रशांत महासागर में स्थित द्वीप न्यू गिनी को छोड़ा।

1964 - इंडोनेशिया को संयुक्त राष्ट्र से निष्कासित किया गया।

1981 - घाना में सैनिक क्रान्ति द्वारा राष्ट्रपति डाक्टर लिम्मान सत्ताच्युत एवं फ़्लाइट लेफ़्टिनेंट जेरी रालिंग्स ने सत्ता संभाली।

1983 - ब्रुनेई को ब्रिटेन से आजादी मिली।

1984 - राजीव गाँधी 40 वर्ष की उम्र में भारत के सातवें प्रधानमंत्री बने। मो. अज़हरुद्दीन ने इंग्लैंड के ख़िलाफ़ टेस्ट मैच खेलकर अपने अंतर्राष्ट्रीए क्रिकेट जीवन की शुरुआत की। बाद में वे भारतीय टीम के कप्तान भी बने।

1988 - परमाणु प्रतिष्ठानों पर हमले रोकने के लिए भारत और पाकिस्तान ने एक समझौते पर हस्ताक्षर किया जो 27 जनवरी 1991 से प्रभावी हुआ।

1997 - मोहम्मद रफ़ीक तरार पाकिस्तान के 9वें राष्ट्रपति निर्वाचित।

1998 - रूस द्वारा कज़ाकिस्तान अंतरिक्ष केंद्र से तीन उपग्रहों का सफल प्रक्षेपण।

1999 - इंडियन एयरलाइंस के विमान 814 का अपहरण कर अफ़ग़ानिस्तान के कंधार हवाई अड्डे ले जाया गया। सात दिन के बाद 190 लोगों की सुरक्षित रिहाई के साथ यह बंधक संकट टला।

2001 - भारत ने पाकिस्तान को 20 वांछित अपराधियों की सूची सौंपी; अर्जेन्टीना के राष्ट्रपति फ़र्नांडों रूआ ने अपने पद इस्तीफ़ा दिया।

2003 - भारत और सार्क के दूसरे देशों के विदेश सचिवों ने शिखर सम्मेलन से पहले वार्ता शुरू की।

2004 - ब्यूनर्स आयर्स (अर्जेन्टीना) के एक नाइट क्लब में आग लगने से 175 लोगों की मौत।

2005 - सुरक्षा कारणों से संयुक्त राज्य अमेरिका ने मलेशिया में अपने दूतावास को अनिश्चित काल के लिए बंद किया।

2007 - म्यांमार की सैन्य सरकार ने सात विपक्षी नेताओं को गिरफ़्तार किया।

2008 - ईश्वरदास रोहिणी को दूसरी बार मध्य प्रदेश विधानसभा का अध्यक्ष बनाने की घोषणा हुई।

2014 - चीन के शंघाई शहर में नए साल की पूर्व संध्या पर मची भगदड़ में कम से कम 36 लोग मारे गए और 49 अन्य घायल हो गये।

 

31 दिसंबर को जन्मे व्यक्ति

1925 - श्रीलाल शुक्ल - व्यंग्य लेखन के विख्यात साहित्यकार।

1866- कृष्ण बल्लभ सहाय- बिहार के मुख्यमंत्री एवं स्वतंत्रता सेनानी।

 

31 दिसंबर को हुए निधन

1965 - वी. पी. मेनन - भारतीय रियासतों के एकीकरण में सरदार पटेल के सहयोगी थे।

1956 - रविशंकर शुक्ल - मध्य प्रदेश के प्रथम मुख्यमंत्री।

1926 - विश्वनाथ काशीनाथ राजवाडे - प्रसिद्ध भारतीय लेखक, इतिहासकार, श्रेष्ठ वक्ता और विद्वान् थे।

 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अंडमान निकोबार द्वीप समूह के तीन द्वीपों को नया नाम दिया

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 30 दिसंबर 2018 को अंडमान एवं निकोबार द्वीप समूह श्रृंखला के प्रसिद्ध तीन द्वीपों को दूसरा नाम दिए जाने की घोषणा की. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पोर्ट ब्लेयर में 30 दिसंबर 1943 को भारतीय भूमि पर नेताजी सुभाष चंद्र बोस द्वारा तिरंगा फहराने की 75वीं वर्षगांठ के उपलक्ष्य में एक विशाल सभा को संबोधित कर रहे थे.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अंडमान के तीन द्वीपों रॉस, नील और हवेलॉक के नाम बदलने की घोषणा की. इसके अतिरिक्त प्रधानमंत्री ने मरीना पार्क में 150 फुट ऊंचा राष्ट्रीय ध्वज फहराया. यहां उन्होंने पार्क में स्थित नेताजी की प्रतिमा पर पुष्पांजलि भी अर्पित की.

 

 प्रधानमंत्री द्वारा की गई घोषणा

प्रधानमंत्री ने कहा “मुझे यहां बोलते गर्व हो रहा हैं कि एक अधिसूचना का मसौदा तैयार किया गया है और अब मैं बहुत गर्व के साथ इसे घोषित करने जा रहा हूं. अब रॉस द्वीप को नेताजी सुभाष चन्द्र बोस, नील द्वीप को शहीद द्वीप और हैवलॉक द्वीप को स्वराज द्वीप के नाम से जाना जायेगा.”

 

 प्रधानमंत्री द्वारा की गई अन्य घोषणाएं

  • प्रधानमंत्री ने अंडमान निकोबार द्वीप समूह के दौरे के मौके पर एक स्मारक डाक टिकट, 'फर्स्ट डे कवर' और 75 रुपये का सिक्का भी जारी किया.
  • इसके अतिरिक्त उन्होंने सुभाष चन्द्र बोस के नाम पर एक मानद विश्वविद्यालय की स्थापना की भी घोषणा की.
  • प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि अंडमान के किसानों के लिए कोकोनट हस्क का न्यूनतम समर्थन मूल्य 7,000 रुपये से बढ़ाकर 9,000 रुपये प्रति क्विंटल कर दिया गया है.
  • केंद्र सरकार ने देश के मछुआरों के कल्याण के लिए 7,000 करोड़ रुपये की मंजूरी दी है जिसका उद्देश्य किसानों को वित्तीय रूप से सशक्त करना है.
  • प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि सरकार कार निकोबार में लोगों की सुरक्षा के साथ सरकार युवाओं के लिए रोजगार, बच्चों के लिए शिक्षा, बुजुर्गों के लिए चिकित्सा देखभाल और किसानों के लिए सुविधाएं सुनिश्चित करने की कोशिशें कर रही है.

 

रॉस द्वीप की विशेषताएं

रॉस द्वीप (अब सुभाष चन्द्र बोस द्वीप) ब्रिटिश वास्तुशिल्प के खंडहरों के लिए प्रसिद्ध है. यह द्वीप लगभग 200 एकड़ में फैला हुआ है. फीनिक्स उपसागर से नाव के माध्यम से चंद मिनटों में रॉस द्वीप पहुंचा जा सकता है. सुबह के समय यह द्वीप पक्षी प्रेमियों के लिए प्रसिद्ध है.

 

हैवलॉक द्वीप की विशेषताएं

हैवलॉक द्वीप (अब स्वराज द्वीप) का नाम अंग्रेज अधिकारी हेनरी हैवलॉक के नाम पर रखा गया है. यह अंडमान का प्रमुख पर्यटक स्थल है, और हर साल हज़ारों की संख्या में सैलानी इसे देखने आते हैं. वर्ष 2004 में टाइम पत्रिका ने इसे एशिया का सबसे बेहतरीन तट घोषित किया था. यहां के साफ़ समुद्री तट और मेंग्रोव वृक्षों की कतारें यहां की विशेषताएं हैं.

 

नील द्वीप की विशेषताएं

पोर्ट ब्लेयर से 36 किलोमीटर उत्तर-पूर्व दिशा में नील (अब शहीद द्वीप) नामक एक छोटा सा द्वीप है, यह रिची द्वीप समूह क्षेत्र में स्थित है. वर्ष 2001 की जनगणना के अनुसार यहां की जनसंख्या 3,000 से भी कम है. यहां के कोरल रीफ और अंग्रेजी शासन के समय के खंडहर बेहद प्रसिद्ध हैं.

 

No comments yet...

Leave your comment

21635

Character Limit 400