Blog Manager

Universal Article/Blog/News module

Current Affairs 21.11.2018

In: India
Like Up: (0)
Like Down: (0)
Created: 21 Nov 2018

21 नवंबर की महत्त्वपूर्ण घटनाएँ

1877 - प्रसिद्ध वैज्ञानिक थॉमस अल्वा एडिसन ने विश्व के सामने पहला फोनोग्राफ पेश किया।

1906 - चीन ने अफीम के व्यापार पर रोक लगाई।

1921 - प्रिंस ऑफ वेल्स (सम्राट एडवर्ड अष्टम) बाँबे (अब मुंबई) पहुंचे और कांग्रेस ने देशव्यापी हड़ताल का ऐलान किया।

1947 - आजादी के बाद देश में पहली बार डाक टिकट जारी किया गया।

1956 - एक प्रस्ताव लाकर शिक्षक दिवस को स्वीकृति दी गई थी।

1962 - भारत-चीन सीमा विवाद के दौरान चीन ने संघर्षविराम का ऐलान किया।

1963 - केरल के थुंबा क्षेत्र से रॉकेट छोड़े जाने के साथ ही भारत का अंतरिक्ष कार्यक्रम शुरु हुआ। भारत का 'नाइक-अपाचे' नाम का पहला रॉकेट छोड़ा गया।

1979 - मक्का में काबा मस्जिद पर मुस्लिम उग्रवादियों का अधिकार।

1986 - मध्य अफ्रीकी गणराज्य नेे संविधान अंगीकार किया।

1999 - चीन द्वारा अपने प्रथम मानव रहित अंतरिक्ष यान 'शेनझू' का प्रक्षेपण किया गया।

2001 - संयुक्त राष्ट्र ने अफ़ग़ानिस्तान में अंतरिम प्रशासन के गठन का प्रस्ताव रखा।

2002 - मुस्लिम लीग (कायदे आजम) के नेता जफ़रउल्ला ख़ान जमाली पाकिस्तान के प्रधानमंत्री निर्वाचित। बुल्गारिया. इस्तोनिया, लातविया, लिथुआनिया ,रोमानिया,स्लोवाकिया और स्लेवानिया को नाटो ने संगठन का सदस्य बनने का निमंंत्रण दिया।

2005 - श्रीलंका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति महिंदा राजपक्षे ने पूर्व प्रधानमंत्री रत्नसिरी विक्रमनायके को देश का नया प्रधानमंत्री नियुक्त किया।

2006 - भारत और चीन ने नागरिक परमाणु ऊर्जा के क्षेत्र में साझा सहयोग बढ़ाने का फैसला किया।

2007 - पैप्सिको चैयरमैन इंदिरा नूई को अमेरिकी इंडियन बिजनेस काउंसिल के निदेशक मंडल में शामिल किया गया।

2008 - प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह ने वैश्विक मंदी के बावजूद भारत की आर्थिक विकास दर 8% रहने की सम्भावना व्यक्त की। राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल ने पंजाब और हरियाणा में दो नये जजों जस्टिस राकेश कुमार गर्ग व राकेश कुमार जैन को नियुक्त किया।

21 नवंबर को जन्मे व्यक्ति

1931 - ज्ञानरंजन - हिन्दी के प्रमुख यशस्वी कथाकार हैं।

1899 - हरे कृष्ण मेहताब - 'भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस' के प्रमुख नेता तथा आधुनिक उड़ीसा के निर्माताओं में से एक। 1916- नायक यदुनाथ सिंह- परमवीर चक्र सम्मानित भारतीय सैनिक

1941- आनंदीबेन पटेल, गुजरात की पहली मुख्यमंत्री

1872 - केसरी सिंह बारहट - प्रसिद्ध राजस्थानी कवि तथा स्वतंत्रता सेनानी।

21 नवंबर को हुए निधन

1517 - सिकन्दर शाह लोदी - बहलोल लोदी का पुत्र और दिल्ली का सुल्तान

1970 - चंद्रशेखर वेंकट रामन, भारतीय वैज्ञानिक

1921 - अविनाशलिंगम चेट्टियार - भारतीय अधिवक्ता, गाँधीवादी नेता, राजनीतिज्ञ और स्वतंत्रता सेनानियों में से एक थे।

1908 - सत्येंद्रनाथ बोस (क्रांतिकारी) - प्रसिद्ध क्रांतिकारी एवं स्वतंत्रता सेनानी थे।

 

21 नवंबर के महत्त्वपूर्ण अवसर एवं उत्सव विश्व दूरदर्शन दिवस नवजात शिशु दिवस (सप्ताह) राष्ट्रीय औषधि दिवस (सप्ताह) राष्ट्रीय एकता दिवस (सप्ताह)

 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ईज़ ऑफ़ डूइंग बिज़नेस ग्रैंड चैलेंज लॉन्च किया

 

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अत्याधुनिक प्रौद्योगिकियों का उपयोग कर ‘कारोबार में सुगमता’ से जुड़ी सात चिन्हित समस्या‍ओं को सुलझाने के लिए ‘ग्रैंड चैलेंज’ का शुभारंभ किया है. इस चैलेंज का उद्देश्य युवा भारतीयों, स्टार्टअप और अन्य निजी उद्यमियों की क्षमताओं का दोहन करना है, ताकि वर्तमान अत्याधुनिक प्रौद्योगिकी का उपयोग कर जटिल समस्याओं का समाधान निकाला जा सके.

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 20 नवम्बर 2018 को नई दिल्ली स्थित अपने आवास पर आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान भारतीय और विदेशी कंपनियों के चुनिंदा मुख्य का‍र्यकारी अधिकारियों (सीईओ) के साथ संवाद किया. प्रधानमंत्री ने भारत में कारोबारी माहौल को निरंतर बेहतर करने के लिए सरकार द्वारा किए जा रहे प्रयासों से मुख्य कार्यकारी अधिकारियों को अवगत कराया. 

ईज़ ऑफ़ डूइंग बिज़नेस ग्रैंड चैलेंज

•    इस चैलेंज का उद्देश्य युवा भारतीयों, स्टार्टअप्स तथा निजी उद्योगों की संभावित क्षमता का उपयोग करना है. 

•    इसके चैलेंज में कुछ एक निश्चित समस्याओं के लिए आधुनिक तकनीक द्वारा समाधान ढूंढें जायेंगे. 

•    यह सरकार द्वारा भारत को व्यापार करने के लिए एक सुगम स्थल बनाने की योजना की हिस्सा है. 

•    देश में व्यापार करने के लिए माहौल को बेहतर करने के लिए सरकार काफी समय से प्रयास कर रही है. 

•    इस चैलेंज में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, इन्टरनेट ऑफ़ थिंग्स, बिग डाटा एनालिटिक्स, ब्लॉकचेन जैसी नवीनतम टेक्नोलॉजी के द्वारा सरकारी प्रक्रिया में सुधार किया जायेगा. 

•    इस ग्रैंड चैलेंज का प्लेटफार्म स्टार्टअप इंडिया पोर्टल पर होगा.

पृष्ठभूमि

विश्व बैंक द्वारा 31 अक्टूबर, 2018 को जारी 'कारोबार में सुगमता' रिपोर्ट (डीबीआर, 2019) में भारत 23 पायदानों की ऊंची छलांग लगाकर वर्ष 2017 के 100वें पायदान से ऊपर चढ़कर 77वें पायदान पर पहुंच गया है. विश्व बैंक की इस रिपोर्ट में 190 देशों में कारोबारी माहौल का आकलन किया गया है. सरकार द्वारा इस दिशा में किए जा रहे निरंतर प्रयासों के परिणामस्वरूप भारत 'कारोबार में सुगमता' सूचकांक में पिछले दो वर्षों में 53 पायदान और पिछले चार वर्षों (2014-2018) में 65 पायदान ऊपर चढ़ चुका है.

 

बीबीसी द्वारा जारी विश्व की 100 प्रभावशाली महिलाओं की सूची में 3 भारतीय महिलाएं शामिल

बीबीसी ने 19 नवम्बर 2018 को विश्व की 100 प्रभावशाली महिलाओं की सूची जारी की. इसमें विश्व के अलग-अलग देशों की 100 महिलाओं को स्थान दिया गया है. इस सूची में जहां भारत की तीन महिलाएं हैं, वहीं पाकिस्तान की एक महिला शामिल है जो कि एक हिंदू हैं. इस सूची में 15 से 60 वर्ष की 100 महिलायें हैं जिन्हें 60 देशों से चयनित किया गया है.

इस सूची में पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति बिल क्लिंटन की बेटी चेल्सिया क्लिंटन का भी नाम है. उन्हें क्लिंटन फाउंडेशन के लिए उल्लेखनीय कार्य करने के लिए नामित किया गया है. रिपोर्ट में कहा गया है कि उन्होंने लाचार सीरियाई छात्रा नुजीन मुस्तफा के जरिये शरणार्थियों की मदद की.

मीना गाएनमीना (36 वर्ष) एक व्यापारी हैं तथा उन्होंने अपने क्षेत्र की अन्य महिलाओं के साथ मिलकर सुंदरबन डेल्टा में अपने गांव तक पक्की सड़क बनाई है ताकि उनका गांव क्षेत्र के अन्य क्षेत्रों से जुड़ सके. इन्हें सूची में 33वें स्थान पर रखा गया है.

विजी पेनकुट्टू: विजी (50 वर्ष) केरल की रहने वाली हैं तथा उन्होंने अपने क्षेत्र में महिलाओं के अधिकारों के लिए महिलाओं की यूनियन बनाई है. यह यूनियन महिला कामगारों तथा अन्य महिलाओं के हितों के लिए आवाज़ उठाती है. उनके प्रयासों के फलस्वरूप ही महिला कामगारों को, फैक्ट्री आदि में, काम के वक्त बैठने का अधिकार प्राप्त हो सका है. वे बीबीसी की सूची में 73वें स्थान पर हैं.

रहीबी सोमा: रहीबी सोमा पोपेरे (55 वर्ष) पश्चिमी भारत में कार्यरत हैं तथा यहां वे बीजों के संरक्षण का कार्य करती हैं. रहीबी स्वयं एक किसान हैं तथा उन्होंने भारत में सीड बैंक (बीज बैंक) तैयार किया है. इन्हें सूची में 76वें स्थान पर रखा गया है.

पाकिस्तान की हिन्दू महिला

भारत के अतिरिक्त पाकिस्तान की हिंदू महिला सांसद कृष्णा कुमारी कोहली को भी बीबीसी ने दुनिया की 100 प्रभावशाली महिलाओं की सूची में रखा है. कृष्णा (40) पाकिस्तान में मानवाधिकारों के लिए आवाज उठाने के लिए जानी जाती हैं. कृष्णा हिंदुओं के थारी वर्ग से आती हैं. वह मूल रूप से कोली जाति की हैं और सिंध प्रांत के एक दूरदराज के गांव की रहने वाली हैं. वह पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी के टिकट पर चुनाव जीतकर संसद में पहुंची हैं. उन्होंने पाकिस्तान में बंधुआ मजदूरों और महिलाओं की समस्याओं पर वर्षों संघर्ष किया था. कृष्णा और उनके परिवार ने तीन साल तक खुद भी बंधुआ मजदूरी की है.