Blog Manager

Universal Article/Blog/News module

Current Affairs 17.12.2018

In: India
Like Up: (0)
Like Down: (0)
Created: 17 Dec 2018

17 दिसंबर की महत्त्वपूर्ण घटनाएँ

1715 - सिखों के प्रमुख बंदा बहादुर बैरागी ने गुरुदासपुर में मुग़लों के सामने आत्मसमर्पण किया।

1779 - मराठों और पुर्तग़ालियों के बीच लंबे संघर्ष के बाद मराठा सरकार ने मित्रता सुनिश्चित करने के लिए इस प्रदेश के कुछ गांवों का 12,000 रुपये का राजस्‍व क्षतिपूर्ति के तौर पर पुर्तग़ालियों को सौंप दिया था।

1907 - उग्येन वांगचुक भूटान के पहले वंशानुगत राजा बने।

1914 - पोलैंड के लिमानोव में आस्ट्रिया की सेना ने रूसी सेना को पराजित किया। तुर्की अधिकारियों ने यहूदियों को तेल अवीव से बाहर खदेड़ दिया गया।

1925 - तत्कालीन सोवियत संघ और तुर्की ने एक दूसरे पर हमला न करने के लिए समझौते पर हस्ताक्षर किये। 1927 - आस्ट्रेलिया के महान् बल्लेबाज सर डान ब्रेडमैन ने अपने प्रथम श्रेणी क्रिकेट में अपने पहले ही मैच में शानदार 118 रनों की पारी खेली।

1929 - महान् क्रांतिकारी भगत सिंह और राजगुरू ने अंग्रेज़ पुलिस अधिकारी सांडर्स को गोली मारी।

1931 - भारत के इतिहास में काफ़ी महत्वपूर्ण है। इस दिन प्रोफेसर प्रशान्त चन्द्र महालनोबिस का सपना साकार हुआ और कोलकाता में ‘भारतीय सांख्यिकी संस्थानकी स्थापना हुई।

1933 - भारत के दिग्गज क्रिकेटर लाला अमरनाथ ने अपने पदार्पण टेस्ट मैच में ही 118 रनों की बेहतरीन पारी खेली।

1940 - महात्मा गांधी ने व्यक्तिगत सत्याग्रह आंदोलन स्थगित किया।

1996 - नेशनल फुटबाल लीग का शुभारंभ हुआ।

1971 - भारत-पाक युद्ध समाप्त।

1998 - अमेरिकी और ब्रिटिश बम वर्षकों ने 'आपरेशन डेजर्ट फ़ाक्स' के तहत इराक पर भारी बमबारी की।

2000 - भारत और पाकिस्तान के सेनाध्यक्ष मुख्यालयों में हॉटलाइन पुन: शुरू, नेशनलिस्ट सर्व डेमोक्रेटिक पार्टी के नेता मिरको सरोविक ने बोस्निया में राष्ट्रपति पद की शपथ ली।

2002 - तुर्की ने कश्मीर मुद्दे पर भारत का समर्थन किया।

2005 - भूटान के राजा जिग सिगमे वांचुक को सत्ता से हटाया गया।

2008- शीला दीक्षित ने दिल्ली की मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। केन्द्र सरकार ने शासन बलों में पदोन्नति के लिए नई पदोन्नति नीति की घोषणा की।

2009 - लेबनान के समुद्री तट पर कार्गो जहाज एमवी डैनी एफ टू के डूबने से 40 लोगों तथा 28000 से अधिक पशुओं की मौत हो गयी।

2014 - अमेरिका और क्यूबा ने 55 साल के बाद दोबारा कूटनीतिक संबंधों को बहाल किया।

 

17 दिसंबर को जन्मे व्यक्ति

1972 - जॉन अब्राहम - भारतीय फ़िल्म अभिनेता

1905 - मुहम्मद हिदायतुल्लाह - भारत के पहले मुस्लिम मुख्य न्यायाधीश, वे भारत के प्रथम कार्यवाहक राष्ट्रपति थे।

1869 - सखाराम गणेश देउसकर - क्रांतिकारी लेखक, इतिहासकार तथा पत्रकार थे। 1

556 - रहीम - बादशाह अकबर के दरबार के प्रसिद्ध कवि।

 

17 दिसंबर को हुए निधन

1645 - नूरजहां - मुग़ल सम्राट जहांगीर की पत्नी।

1959 - भोगराजू पट्टाभि सीतारामैया - प्रसिद्ध भारतीय स्वतंत्रता सेनानी, गाँधीवादी और पत्रकार।

1927 - राजेन्द्रनाथ लाहिड़ी - भारत के अमर शहीद प्रसिद्ध क्रांतिकारियों में से एक।

 

पीवी सिंधु ने रचा इतिहास, वर्ल्ड टूर ख़िताब जीतने वाली पहली भारतीय खिलाड़ी बनीं

 

भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी पी.वी. सिंधु ने बीडब्ल्यूएफ वर्ल्ड टूर फाइनल्स का खिताब जीत लिया है. उन्होंने फाइनल में जापान की नोजोमी ओकुहारा को हराकर स्वर्ण पदक पर कब्जा किया. सिंधु यह खिताब जीतने वाली पहली भारतीय खिलाड़ी बन गईं हैं.

सिंधु ने यह मुकाबला 62 मिनट में 21-19, 21-17 से अपने नाम किया. इस साल सिंधु का यह पहला खिताब है. दोनों खिलाड़ियों के बीच यह 13वां मुकाबला था, जिसमें सिंधु को 7वीं बार में सफलता मिली. इससे पहले 2018 में उन्हें विश्व चैंपियनशिप, एशियाई खेलों, राष्ट्रमंडल खेलों, थाईलैंड ओपन और इंडिया ओपन के फाइनल में हार का सामना करना पड़ा था.

वर्ल्ड रैंकिंग में सिंधु

टूर्नामेंट में जीत के बाद सिंधु ने रैंकिंग्स के शिखर तक पहुंचने की ओर लंबी छलांग लगा दी है. वर्तमान में वे दुनिया में नंबर 6 पर काबिज हैं, सिंधु के खाते में कुल 81,614 पॉइंट्स हैं. वर्ल्ड टूर फाइनल्स जीतने पर सिंधु को 12 हजार पॉइंट्स मिले हैं. बैडमिंटन वर्ल्ड रैंकिंग्स अपडेट होने पर वह 93,614 पॉइंट्स के साथ दूसरे नंबर पर पहुंच जाएंगी. वर्ल्ड नंबर वन ताइ जू टॉप पर बनीं रहेंगी.

 

मुख्य बिंदु

  • सिंधु ने 11 बीडब्ल्यूएफ सिंगल्स खिताब जीते हैं जबकि 14 बार किसी टूर्नामेंट के फाइनल में वह रनरअप रही हैं.
  • सिंधु ने दूसरी बार किसी टूर्नामेंट के फाइनल में ओकुहारा को हराया है. भारतीय खिलाड़ी ने पिछले साल कोरिया ओपन के फाइनल में भी इस जापानी खिलाड़ी को हराया था.
  • भारतीय बैडमिंटन संघ (बाई) ने सिंधु को इस ऐतिहासिक सफलता के लिए 10 लाख रुपये का नकद पुरस्कार देने की घोषणा की है.
  • टूर्नामेंट में उन्होंने गजब की लय दिखाते हुए वर्ल्ड नंबर 1 चीनी ताइपे की ताइ जू यिंग, वर्ल्ड नंबर 2 जापान की अकाने यामागुची, वर्ल्ड नंबर 5 जापान की नोजोमी ओकुहारा, वर्ल्ड नंबर 8 थाईलैंड की रत्चानेक इंतानोन को हराया.

 

 

No comments yet...

Leave your comment

26585

Character Limit 400